रुद्राक्ष के लाभ क्या है

हर पदार्थ का एक अपनी ऊर्जा और आवरण होता है चाहे कुछ भी हो अध्यात्म की बात करे तो उसमे पेड़ पौधे मिट्टी सबकी अपनी महत्व है रुद्राक्ष को शिव की आंखो का आशु भी कहा जाता है । 

1.रुद्राक्ष पहनने से पहनने वाले व्यक्ति की आभा साफ होती है मतलब औरा साफ होता है जो प्रकाश शरीर के चारो तरफ विद्यमान होता है जिसको सकारात्मक ऊर्जा भी कहते है जैसा हर शरीर का अपना व्यक्त्तिव होता है ऐसे ही हर शरीर की पॉजिटिव ऊर्जा होती है शरीर के चारो तरफ होती है उसको औरा बोलते है तो रुद्राक्ष शरीर पर नकारात्मक शक्तियों को पड़ने नहीं देता है ना ऊर्जा को ।

2.रुद्राक्ष शरीर को शुद्ध करता है इसे ज्यादा भारतीय साधु पहनते है मन को शांत करता है अगर घूमने फिरने वाला व्यक्ति हो तो थर्मल इमेजिंग कें कारण उसको अलग अलग जगहों पर नींद नहीं आती है। इसका मतलब जो व्यक्ति लगातार यात्रा करता है रुद्राक्ष उस व्यक्ति को कवच प्रदान करता है । उसकी ऊर्जा को चरमराने नहीं देता है। व्यक्ति की ऊर्जा को बना कर रखता है क्युकी गति के साथ आभा टूट जाती है तो शरीर की गति को शांत रखता है शरीर की ऊर्जा को भिखरने नहीं देता है ।

 3.लोग नुकसान पहुंचाने वाली ऊर्जा से दूसरों का नुक़सान करते है अथर्व वेद में इसके बारे में लिखा गया है। जैसे तंत्र में काला जादू उससे रक्षा करता है रुद्राक्ष ।

 4. सेहत खराब करने वाले भोजन और खराब पानी से रक्षा करता है जैसे आप जंगलों में यात्रा करते है तो जंगलों में यात्रा करते है अक्सर तो अपने साथ रुद्राक्ष रखे उससे ये होगा पानी में अपने पास रखे रुद्राक्ष को डुबाए तो रुद्राक्ष उल्टी दिशा में घड़ी के विपरित घूमने लगत है इससे पानी के बारे में पता चल जाता है के वो जहरीला तो नहीं है। 

5.ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करता है रक्त चाप को कम करता है हिंदुस्तान में आज डॉक्टर सलाह भी देने लगे है। 

6. रुद्राक्ष जीवन में सफल होने की प्रक्रिया को आसान बनाता है ऐसा नहीं है के बिना रुद्राक्ष के आप सफल नहीं हो पाएंगे अगर आपके पास रुद्राक्ष है आप मेहनत करते है तो निश्चित रूप से आपको लाभ होगा आप अगर सत्कर्म से प्रयास करेंगे साथ में रुद्राक्ष होगा तो सफल जरूर होंगे ।